वित्तीय मापदंड

i. लेखे की अंकेक्षण अद्यतन होनी चाहिए और लेखा परीक्षक की टिप्‍पणी में कोई प्रतिकूल मत अथवा खंडन नहीं होना चाहिए ।

ii. ऋण के लिए आवेदन की तारीख तक अंतिम ऋणी किसी बैंक/ वित्तीय संस्‍था का बकायादार नहीं होना चाहिए ।

iii. उत्‍पादक सदस्‍यों का सभी बकाया देय चार भुगतान अवधि (payment cycle) से अधिक का नहीं होना चाहिए ।

iv. ऋणी की नेट वर्थ (Net Worth) पॉजिटिव होनी चाहिए ।

v. अंतिम ऋणी अपने ऋण को सुरक्षित करने के लिए एनडीडीबी द्वारा प्राप्‍त सभी प्रतिभूतियों को नाबार्ड के पक्ष में सौंपने हेतु अपनी सहमति प्रदान करेगा । पुन: सुपुर्दगी के संबंध में लगने वाला लागत पात्र अंतिम ऋणी से लिया जाएगा ।

vi. इस परियोजना से प्राप्‍त लाभ से समय-समय एनडीडीबी द्वारा निर्धारित शर्तों  की पूर्ति होनी चाहिए ।

vii. अंतिम ऋणी की राज्‍य सरकार से एक वर्ष से अधिक प्राप्य राशि नहीं होनी चाहिए ।

 

 

इस वेबपेज के हिंदी पाठ तथा अंग्रेजी पाठ में किसी प्रकार की भिन्नता होने पर अंग्रेजी पाठ मान्य होगा|