वीर्य उत्पादन एवं संसाधन प्रबंधन सूचना नेटवर्क (इंस्पर्म)

वीर्य उत्पादन एवं संसाधन प्रबंधन सूचना नेटवर्क (इंस्पर्म) राष्ट्रीय डेरी योजना (एनडीपी) के अंतर्गत वित्त पोषित वीर्य केंद्रों का एक सूचना नेटवर्क है। इसमें प्रत्येक वीर्य केंद्र की सूचना आवश्यकताओं के साथ-साथ एनडीपी की परियोजना निगरानी इकाई (पीएमयू) की सभी गतिविधियों में समन्वय स्थापित करने की परिकल्पना की गई है। वीर्य केंद्रों के इस नेटवर्क को क्षेत्र गतिविधियों के वर्तमान नेटवर्क –  इनाफ  (INAPH) (पशु उत्पादकता और स्वास्थ्य के लिए सूचना नेटवर्क) के साथ भी जोड़ा गया है । 

एनडीपी एक केंद्रीय क्षेत्र की योजना है जो विश्व बैंक द्वारा वित्त पोषित और राष्ट्रीय डेरी विकास बोर्ड (एनडीडीबी) द्वारा कार्यान्वित है जिसका उद्देश्य डेरी गोवंशीय पशुओं की उत्पादकता बढ़ाना और ग्रामीण दूध उत्पादकों को संगठित दूध प्रसंस्करण क्षेत्र की व्यापक पहुंच उपलब्ध कराना है। उत्पादकता वृद्धि की प्रक्रिया में वैज्ञानिक रूप से डिजाइन संतति परीक्षण (पीटी), वंशावली चयन (पीएस) कार्यक्रमों के जरिए एचजीएम सांड़ों का उत्पादन करना और गोवंशीय जर्मप्लाज्म का आयात, उच्च गुणवत्ता के रोगमुक्त वीर्य का उत्पादन तथा एआई नेटवर्क के अंतर्गत बड़ी संख्या में प्रजनन योग्य गोवंशीय मादाओं को कवर करना शामिल था। 

2009-10 में, एनडीपी के आरंभ में देश का कुल वीर्य उत्पादन 65.87 मिलियन हिमिकृत वीर्य डोज था। एआई में 35% कवरेज पर विचार करते हुए, एआई के लिए वीर्य डोज की आवश्यकता को पूरा करने के लिए 2016-17 में 100 मिलियन वीर्य डोज की मांग होने का अनुमान था। इस अंतर को पूरा करने के लिए, सांड़ प्रबंधन, प्रयोगशाला, जैव सुरक्षा और मानव शक्ति के लिए वीर्य केंद्रों के सुदृढ़ीकरण/ विस्तार की योजना बनाई गई थी। इससे वीर्य केंद्रों की सुदृढ़ीकरण (एसएसएस) परियोजनाओं में वृद्धि हुई है। 

किसानों तथा सभी हितधारकों को विश्वसनीय, उपयोग में आसान और समय से जानकारी उपलब्ध कराने को एनडीपी के अंतर्गत किसानों को गुणवत्ता आनुवंशिकी उपलब्ध कराने के संबंध में योजनाबद्ध सभी कार्यक्रमों में प्रमुख गतिविधियों के तौर पर पहचान मिली है। एनडीडीबी ने ही इसी नेटवर्क पर पशुओं, एआई सेवाओं, संतति परीक्षण और वंशावली चयन कार्यक्रम, आहार संतुलन, पशु स्वास्थ्य इत्यादि के पंजीकरण सहित उत्पादकता में वृद्धि से संबंधित सभी क्षेत्रीय गतिविधियों के लिए पहले से ही इनाफ नेटवर्क स्थापित किया है, इसी प्रकार से वीर्य केंद्रों के नेटवर्क के रूप में इंस्पर्म विकसित किया गया है जिससे कि सांड़ प्रबंधन, वीर्य उत्पादन, चारा उत्पादन, भंडार प्रबंधन, ग्राहकों को वीर्य डोज की बिक्री करने हेतु परिसंपत्ति प्रबंधन से सबंद्ध वीर्य केंद्रों की सभी गतिविधियों के लिए संपर्क स्थापित किया जा सके । पशु पंजीकरण, वंशावली, सांड़ की प्रजनन क्षमता, सांड़ के प्रजनन क्षमता और सांड़ के मादा बछड़ों के प्रजनन के उत्पादन रिकार्ड तथा विभिन्न लक्षणों वाले सांड़ के प्रजनन मूल्य से संबद्ध वीर्य केंद्र के आंकड़े समय-समय पर इनाफ सर्वर से वीर्य केंद्र पर भेजे जाएंगे । इसी प्रकार, परीक्षण के लिए चिह्नित सांड़ों के आंकड़े और उनकी वंशावली के विवरण, सांड़वार  वीर्य उत्पादन का संक्षिप्त विवरण और गुणवत्ता से संबंधित प्रमुख आंकड़े समय-समय पर इनाफ सर्वर पर भेजे जाएंगे। इनाफ डाटाबेस के माध्यम से विभिन्न एजेंसियों को प्रदान की गई हिमिकृत वीर्य डोजों (एफएसडी) का पता लगाया जा सकेगा ।

संक्षेप में, इंस्पर्म से आशय है कि भारत में सभी वीर्य केंद्रों में 'राष्ट्रीय लिंक' के तौर पर काम करना जिससे कि वीर्य उत्पादन से संबंधित एक सूचना पूल का निर्माण करके क्षेत्र में उसको उपयोग में लाया जा सके । इससे देश में डेरी गोवंशीय पशुओं की उत्पादकता बढ़ाने के दीर्घकालिक लक्ष्य को प्राप्त करने में और मदद मिलेगी ।

वेबसाइट देखें