क्षेत्रीय विश्लेषण एवं अध्ययन

क्षेत्रीय विश्लेषण एवं अध्ययन ग्रुप महत्वपूर्ण आंकड़ों (डेटा) को प्रसंस्कृत और विश्लेषित करके डेरी और अन्य संबंधित क्षेत्रों को समझने में सहयोग प्रदान करता है, जिससे प्रबंधन को डेरी सहकारी समितियों और उनसे जुड़े किसानों के लाभ के लिए निर्णय लेने में मदद मिलती है।

क्षेत्रीय विश्लेषण एवं अध्ययन ग्रुप विशेष रूप से डेरी तथा अन्य क्षेत्र जैसे कि कृषि, ग्रामीण अर्थव्यवस्था, जनसांख्यिकी और सामाजिक क्षेत्र से संबंधित आंकड़ों (डेटा), सूचनाओं के विश्लेषण का एक केंद्र है I

यह ग्रुप क्षेत्रीय सूचना और विश्लेषण के लिए एक तरह से एक एकल संसाधन केंद्र के रूप में कार्य करता है I इंटरनेट आधारित एप्लिकेशन जैसे कि आईडीआईएस और जीआईएस का उपयोग करते हुए यह ग्रुप डेटा प्रसार में व्यापक प्रयास करता है I ये एप्लिकेशन उपयोग करने के लिए तैयार है तथा येनवीनतम डेटाबेस उपलब्ध कराते हैं और आंकड़ों का उचित उपयोग करने हेतु प्रशिक्षण प्रदान कराते हैं I

पूरे देश के डेरी क्षेत्र से जुडी जानकारियां और सभी महत्वपूर्ण पहलुओं पर समय पर जानकारी और विश्लेषण उपलब्ध कराने के लिए इस ग्रुप में विभिन्न टीमें हैं I

यह संस्था के भीतर और साथ ही डेरी क्षेत्र में अपने सहायक संस्थाओं और सहकारी संगठनों को बाहरी रूप से अन्य सभी ग्रुपों को सेवाएं प्रदान करता है।

ऐसे विविध हितधारकों और उनकी आवश्यकताओं को संबोधित करने के लिए यह ग्रुप उचित साधनों का उपयोग करता है जो अर्थशास्त्र, सांख्यिकी, सूचना प्रौद्योगिकी और प्रबंधन में पेशेवरों की एक टीम द्वारा संचालित होता है।

प्रमुख रूप से ग्रुप का कार्य क्षेत्र निम्नानुसार है:

  • इंटरनेट आधारित डेरी सूचना प्रणाली (i-DIS) के माध्यम से डेरी सहकारी समितियों, संघों, महासंघों एवं एनडीडीबी को राष्ट्रीय नेटवर्क से जोड़ता है, जो सूचनाएं एकत्र करते हैं, उसका महत्त्व बढ़ाते हैं और उसका प्रसार करते हैं।
  • इंटरनेट आधारित डेरी भौगोलिक प्रणाली (i-DGIS) के माध्यम से डेरी क्षेत्र से संबंधित भू-स्थानिक विश्लेषण I
  • डेरी उद्योग संबंधित बाजार की जानकारी जुटाना।
  • बड़े डेटाबेस को तैयार, संग्रह तथा उनका प्रबन्धन करना।
  • प्रबंधन के निर्णयों का समर्थन करने के लिए दुग्ध उत्पादन, विपणन योग्य अधिशेष, विपणन, संसाधनों की उपलब्धता और डेरी बुनियादी ढांचा के क्षेत्रों में वृहद से मध्यमिक स्तर के अध्ययन और सर्वेक्षणों को रेखांकित करना।
  • डेरी उद्योग संबंधित सर्वेक्षण तथा डेस्क अध्ययन एवं विश्लेषण करना।
  • प्रमुख राज्यों के लिए सांख्यिकीय डेरी प्रोफाइल का प्रकाशन करना, जो डेरी क्षेत्र का व्यापक विवरण प्रदान करता है। इस प्रकाशन की प्रमुख विशेषताएं - मानव जनसांख्यिकी, पशुधन आबादी और उत्पादन है एवं यह उत्पादकता में वृद्धि, जैसे प्रजनन, स्वास्थ्य और पोषण के लिए इनपुट प्रदान करता है।
  • अंतरराष्ट्रीय डेरी परिदृश्य की नवीनतम जानकारी रखना।
  • नीति नियोजन तथा सही निर्णय के लिए विश्लेषणात्मक जानकारी की उपलब्धता सुनिश्चित करना।
  • बेहतर पशुधन सांख्यिकी और दुग्ध उत्पादन अनुमान को बढ़ावा देना।
  • एनडीडीबी द्वारा प्रबंधित दुग्ध संघों और परियोजनाओं के लिए डाटा तथा आवश्यकता के आधार पर फील्ड की स्थिति का मूल्यांकन तथा निदान करना।

 

1. इंटरनेट आधारित डेरी सूचना प्रणाली प्रबंधन (आईडीआईएस)
2. इंटरनेट आधारित डेरी भौगोलिक सूचना व्यवस्था (आईडीजीआईएस)
3. राष्ट्रीय डेटाबेस का निर्माण
4. क्षेत्रीय संबन्धित अध्ययन का आयोजन